• खिलौना

    खिलौना ऐसी किसी भी वस्तु को कहा जा सकता है जिस से खेलकर आनंद हो। खिलौनों को अक्सर बच्चों से सम्बंधित समझा जाता है लेकिन बड़े लोग भी इनका प्रयोग करते हैं। भार...

  • गोटी

    गोटी शतरंज से मिलता-जुलता एक खेल है जो पश्चिमी देशों, विशेषकर यूरोप और अमरीका में अधिक प्रचलित है। अमेरिकी अंग्रेजी में इसे चेकर्स कहा जाता है। यह दो व्यक्ति...

  • ताश

    ताश मोटे-भारी कागज़, पतले गत्ते, या पतले प्लास्टिक से विशेष रूप से बनी होती है; जिसमें पहचान के लिए अलग रूपांकन बने होते हैं और उनका इस्तेमाल ताश के खेल के ल...

  • वीडियो गेम

    वीडियो गेम या वीडियो खेल ऐसे इलेक्ट्रॉनिक खेल होते है जिसमें यूज़र इंटरफ़ेस के साथ परस्पर क्रिया करके दृश्य प्रतिक्रिया उत्पन्न होती है। वीडियो गेम खेलने के ...

सेंट जेवियर्स महाविद्यालय, कोलकाता

सेंट जे़वियर्स महाविधालय भारत के पश्चिम बंगाल राज्य कोलकाता में स्थित एक पारंपरिक स्वायत्त शैक्षणिक संस्थान हैा इस कॉलेज की स्थापना 1860 ई0 में जेसुइट्स सेंट द्वारा किया गया था इस कॉलेज का नाम जेसुइट संत एक फ्रांसिस जेवियर के नाम पर रखा गया जो 16 वीं शताब्दी में भारत भम्रर्ण के लिए आये थे। इस कॉलेज को 2006 में स्वयत्ता प्रदान के फलस्वरूप पश्चिम बंगाल का पहला स्वायत्त कॉलेज बन गया। इंडिया टुडे और नीलसन दोनों द्वारा सवेर्क्षण से यह कॉलेज भारत के टॉप तीन अंडरग्रेजुएट कॉलेजो में शामिल किया गया।

1. इतिहास
जेसुइट ने 5 जनवरी 1860 को इसाई मिशनरी और पुजारी फादर हेनरी डेपेलचिन के नितृत्व में कॉलेज की स्थापना कीया था। यह लोयला के संत इग्राटियस द्वारा गठित एक सर्व-भौमिक कैथोलिक धार्मिक आदेश था, जिन्हें एक समय उन्हें युरोप का स्कूल मास्टर्स का जाता था। 1843 में एक विस्फोट से थिएटर जलने के बाद, कोलकाता के तत्कालीन ओलिव ने जेसुइट्स को एक कॉलेज बनाने की जगह दी। पहली कक्षा 40 छात्रों के साथ शुरू हुआ था इसकी स्थापना के दो साल बाद 1862 में कॉलेज को कलकाता के द्वारा अनुमोदित किया गया। कई एंग्लो-इंडियन और बेल्जियम से कॉलेज के विकास के लिए बहुत रूपया दान दिया। मौजुदा 5 मंजिला इमारत 6 साल के अंतराल 9 लाख लागत पर बनाई गयी। बेल्जियम ने द्वितीय युद्ध के समय अमेरिका के बिशाल सेना को किराए पर देने के लिए इसपर कब्जा कर लिया। 12 अप्रेल, 1985 को कॉलेज के परिसर के दर्शाते हुए एक भारतीय डाक टिकट जारी किया। इस तरह समाज में कॉलेज के योगदान को पहचाना जा सका।

2. संरचना
वर्तमान समय में यह कॉलेज दो इमरातों में पाँच मंजिला विस्तृत रूप में फैला हैा इसमें 50 से अधिक कक्षायें, आधा दर्जन ऑडियों-विजुअल सम और तीन कम्प्यूटर प्रयोगशालाएँ शामिल है, जिनमें प्रत्येक रूम में 70 से अधिक लोगों के बैठने की जगाह हैा कॉलेज सबंधित विभाग भौतिक, रसायन विज्ञान और जैव प्रौधोगिकी जैसी आवश्यकताओं को पूत्ती के लिए सुजज्जित रूप से प्रयोगशालएँ हैा मास कम्युनिकेशन और वीडियोग्राफी विभाग के पास अपने फिल्म छात्रों की सहायता के लिए एक विडियो लाइब्रेरी हैा सेंट्रल लाइब्रेरी दो मंजिलों में फैली,जिनमें विभिन्न विषयों के पुस्तक के आलावा वैज्ञानिक पत्रिकाएँ और अभिलेख भी उपलब्ध हैा आत्यधुनिक साउंड और लाइटिंग सिस्टम से भरा एक ऑडिटोरियम 800 से अधिक लोगों के बैठने की क्षमता हैा कॉलेज के इमारत के ठीक पिछे एक बड़ा सा खेल का मैदान हैा

3. पाठयक्रम
कॉलेज में केवल लड़कों के लिए मॉनिंग बैच हैा यह कॉलेज कला, विज्ञान, वाणिज्य, से सम्बन्धित अंग्रेजी, बंगला, राजनितिक, समाजशासत्र, माइक्रोबायोलॉजी, कम्प्यूटर गणित, रसायन विज्ञान जैसे विभिन्न 50 पाठयक्रमों में 9 और बीए, बीएसी, बी.कॉम, जैसे 13 स्नात्रक ऑनस डिग्री प्रदान करता हैा कॉलेज को विदेशी सहयोग, कनाडा के मैनिटोबा विश्वविधालय के साथ एक टाई-अप में प्रवेश किया। कॉलेज के द्वरा अनेक सुविधाएँ मौजूद हैं जैसे कैंटीन,पुस्तकालय, हॉस्टल, कम्प्यूटर केन्द्र, ऑडिटोरियम, जनरल स्टोर, वाई-फाई, कैंपस के बाहर मौज-मस्ती के लिए ग्रीन बेंच आदि।

4. खेल और त्यौहार
कॉलेज में अनेक किस्म के खेल मजूद हैं जिनमें फुटवॉल, बास्केटबॉल, वॉलीबाॉल, क्रिकेट, टेबल टेनिस, बैडमिंटन, केरम आदि1 यह खेल पूरे साल भर इंट्रा-कॉलेज और इंटर कॉलेज दोनों स्तरों के मध्यांतर खेला जाता हैा यह प्रत्येक साल दिसम्बर के महिने में आयोजन किया जाता हैा

5. प्रसिद्ध समारोह
यह कॉलेज त्यौहारों की संस्कृतिक हैा यहाँ प्रत्येक साल अपने शिक्षिक कैलेंडर के अनुसार अक्सर कार्यक्रम होते रहते हैा प्रमुख लोकप्रिय कार्यक्रमों में अनेक नेता, अभिनेता, अभिनेत्री शामील होते हैा अमिताभ बच्चन और प्रकाश झा ने वर्ष 2011 में अपनी अरकक्षण फिल्म को बढ़ावा देने के लिए इस कॉलेज का दौरा किया था और 2012 में रणबीर कपूर के साथ अनुराग बसु, प्रियंका चौपड़ा ने बर्फी फिल्म को बढ़वा देने के लिए चुना था इसके अलवा भारत के पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे अब्दुल कलाम ने कॉलेज के पृथ्वी शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया था और भारत के पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी कॉलेज का दौरा किये। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कॉलेज के 150 वार्षगाठ पर आये थे। मोहित चौहान, सोनू निगम, मीलका सिंह, मोनाली ठाकुर सहित अन्य कलाकारर हस्थियाँ प्रत्येक साल कॉलेज के म्युजिकल समारोह का हिस्सा होते हैा
इस कॉलेज में दिक्षांत समारोह के दिन मुख्य वक्ता के रूप में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल एम.के.नरायण, पूर्व गृह मंत्री पी.चिदंबरम और पश्चिम बंगाल के मुख्य मंत्री ममता बनर्जी मौजुद थे।

6. समाजिक गतिबिधि
कॉलेज का इंडियन इंस्टिटयूट ऑफ सेरेब्रल पाल्सी IICP के साथ गठजोड़ हैा कॉलेज के छात्र प्रत्येक सप्ताह IICP के बिषेश बच्चों को पढ़ाने जाते हैा विलेज टू कॉलेज कैंप समाजिक सेवा का उत्सव प्रति वर्ष जनवरी के महीने में आयोजित किया जाता हैा गाँव के छोटे बच्चों गतिबिधी और मनोरंजन के लिए कॉलेज लाया जाते हैा जहाँ पर उन्हें मुफ्त भोजन और उपहार मुहया कराया जाता हैा यह समारोह राष्ट्रीय स्व-सेवा योजना NSS द्वारा आयोजित किया जाता हैा

7. पुरस्काऔर रैंकिंग
केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्च शिक्षा संस्थानों की रैंकिंग में कोलकाता का यह कॉलेज 10 वें स्थान पर आता हैा इस कॉलेज को 2003 में राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद NAAC ए ग्रेड के रूम में मान्यता प्राप्त हैा

वीडियो गेम

वीडियो गेम या वीडियो खेल ऐसे इलेक्ट्रॉनिक खेल होते है जिसमें यूज़र इंटरफ़ेस के साथ परस्पर क्रिया करके दृश्य प्रतिक्रिया उत्पन्न होती है। वीडियो गेम खेलने के ...

ताश

ताश मोटे-भारी कागज़, पतले गत्ते, या पतले प्लास्टिक से विशेष रूप से बनी होती है; जिसमें पहचान के लिए अलग रूपांकन बने होते हैं और उनका इस्तेमाल ताश के खेल के ल...

गोटी

गोटी शतरंज से मिलता-जुलता एक खेल है जो पश्चिमी देशों, विशेषकर यूरोप और अमरीका में अधिक प्रचलित है। अमेरिकी अंग्रेजी में इसे चेकर्स कहा जाता है। यह दो व्यक्ति...

खिलौना

खिलौना ऐसी किसी भी वस्तु को कहा जा सकता है जिस से खेलकर आनंद हो। खिलौनों को अक्सर बच्चों से सम्बंधित समझा जाता है लेकिन बड़े लोग भी इनका प्रयोग करते हैं। भार...