मानवता

ऐतिह्य

ऐतिह्य शब्द ऐतिहासिक के संदर्भ में प्रयोग होता है । ऐतिह्य नाम है परंपरा सिद्ध प्रमाण का अर्थात जो लोक में प्रारंभ से बराबर सुनते आया जा रहा है। उदाहरण के लिए जैसे मानव के विषय मे कहा जाता रहा है कि इसकी उत्पत्ति वानर या होमो सेपियन्स की प्रजाति से धीरे धीरे हुई है ।

मानवता धर्म

मानवता धर्म ऑगस्ते कॉमते द्वारा स्थापित धर्मनिर्पेक्ष धर्म है। इस धर्म के अनुयायिओं ने फ्रांस और ब्राज़ील में मानवता के प्रार्थना कक्ष या मंदिर बनाए हैं।

मानवता (सद्गुण)

मानवता ही नैतिकता का आधार है।सभी नैतिक मूल्य सत्य अहिंसा प्रेम सेवा शांति का मूल मानवता ही है। मनुष्य को चाहिए कि मानवता के मार्ग पर चलता हुआ सत्कर्म करे ।मा...