• स्थानापन्न मातृत्व

    स्थानापन्न मातृत्व या सरोगसी एक ऐसा कार्य है जिसमे नारी अपनी गर्भावस्था किसी और अनुर्वर दम्पति के लिए लेती है। वर्तमान युग में इस प्रतिक्रिया के प्रयोग ने भा...

  • शिशु

    शिशु पृथ्वी पर किसी भी मानव की सबसे पहली अवस्था है। जन्म से एक मास तक की आयु का शिशु नवजात कहलाता है जबकि एक महीने से तीन साल तक के बच्चे को सिर्फ शिशु कहते ...

  • जन्म चिह्न

    जन्म चिन्ह त्वचा की असामान्यताएं होती हैं जो बच्चे के जन्म से मौजूद होती हैं। जन्म चिन्ह शरीर के किसी भी अंग पर सम्भव है। जैसे: चेहरे पर छेद-जैसे निशान; आदि।...

  • आलस

    आलस किसी भी काम में देर करने या उसके करने से बचने, बेदिली से करने या अपर्याप्त ढंग से करने को कहा जाता है। एक आलसी व्यक्ति जीवन में सक्रिय नहीं होता और समय प...

मानव जीवन

आलस

आलस किसी भी काम में देर करने या उसके करने से बचने, बेदिली से करने या अपर्याप्त ढंग से करने को कहा जाता है। एक आलसी व्यक्ति जीवन में सक्रिय नहीं होता और समय प...

जन्म चिह्न

जन्म चिन्ह त्वचा की असामान्यताएं होती हैं जो बच्चे के जन्म से मौजूद होती हैं। जन्म चिन्ह शरीर के किसी भी अंग पर सम्भव है। जैसे: चेहरे पर छेद-जैसे निशान; आदि।...

शिशु

शिशु पृथ्वी पर किसी भी मानव की सबसे पहली अवस्था है। जन्म से एक मास तक की आयु का शिशु नवजात कहलाता है जबकि एक महीने से तीन साल तक के बच्चे को सिर्फ शिशु कहते ...

स्थानापन्न मातृत्व

स्थानापन्न मातृत्व या सरोगसी एक ऐसा कार्य है जिसमे नारी अपनी गर्भावस्था किसी और अनुर्वर दम्पति के लिए लेती है। वर्तमान युग में इस प्रतिक्रिया के प्रयोग ने भा...