धर्माचरण

इसल ए धर म चरण क उसपर क ई प रभ व नह पड सकत उच छ दव द क अन स र वर तम न शर र क स थ ह ज वन क उच छ द ह ज त ह इसक अन स र भ धर म चरण न रर थक
ह ह न द ब र ह मण अपन ध रण ओ स अध क धर म चरण क महत व द त ह यह ध र म क पन थ क व श षत ह धर म चरण म म ख यत ह यज ञ करन द नचर य इस प रक र
य ग स त तथ मह न भक त ह इनक अ ग र - स म त म स न दर उपद श तथ धर म चरण क श क ष व य प त ह सम प र ण ऋग व द म महर ष अ ग र तथ उनक व शधर
श च भ तर और ब हर क पव त रत इन द र य न ग रह इन द र य क हम श धर म चरण म लग न ध सत कर म स ब द ध क बढ न व द य यथ र थ ज ञ न
र प डल ग, सद श व ल ग, आत मल ग, ज ञ नल ग और श वल ग क छ: आध र क कथन ह धर म चरण श व प सन स तमह म य गम द र आद क व वरण भ इस त त र म ह अष टम
कर म स वर गप र पक एव च त तश द ध क रक म न ज त ह सभ स प रद य क धर म चरण प ण यकर म म न ज त ह इष ट प र वकर म र पल क क रक कर म भ प ण य कर म
स वय भ व मन स वय भ व मन ज एक धर मश स त रक र थ धर मग रन थ क ब द धर म चरण क श क ष द न क ल य आद प र ष स वय भ व मन न स म त क रचन क ज मन स म त
द व र ग रह क द ष प रभ व स अपन रक ष कर सकत ह ल ल क त ब म धर म चरण और सद चरण क बल पर ग रह द ष न व रण क झण ड ऊ च क य ह ज सस हम र इहल क
ह प र य: व श व म ज ञ न और व रक त प र ष सर वत र ह त आए ह क त धर म चरण क स क ष त फलव त त और कर मक ड क प रक ड व द व न भ रतवर ष म ह ह ए
क ल ए प रय ग भ कर सकत ह और उस स वर द ध त व स प ष ट भ पर इसक ल ए धर म चरण क ठ स आध र आवश यक ह धर म स व म ख ह कर अर थ प र जन म स लग न मन ष य

धर म न श सन क ल ए भ द र एव आच र क स म न य ब त 4 धर म चरण म श ल क प लन, 5 ल ग क धर म चरण क ब त बत न क ल ए धर ममह म त य क न यत क य ज न
प रभ क भक त न म ज प एव य ग स धन करन इसक आध र ह म ह श वर अपन धर म चरण क प र न ष ठ क स थ प लन करत ह तथ वह ज स स थ न द श प रद श शहर
अन धस य द र इव दर शन य व स ष ठ धर मस त र न प न प न य न मन ष य क धर म चरण और सत य स भ षण करन क ह प र रण द ह उसक कथन ह क अर मन ष य
उसक ल ल वत न म क सत - स ध व भ र य पत क स थ आनन द च त त स ऋत क ल न धर म चरण म प रव त त ह ई और भगव न श र सत यन र यण क क प स उसक वह भ र य गर भ ण
प र च न भ रत क श क ष - दर शन भ धर म स ह प रभ व त थ श क ष क उद द श य धर म चरण क व त त ज ग रत करन थ श क ष धर म, अर थ, क म और म क ष क ल ए थ इनक
श क षक क आपस स ब ध प र म और सम म न क थ स दग सद च र, व द य प र म और धर म चरण पर ज र द य ज त थ क ठस थ करन क पर पर थ प रश न त तर, व य ख य और
फ र कल न क हठधर म त और स द ध त क अस व क त तथ आच र और न त कत और न गर क धर म चरण क भगव न पर उनक ज र न उन ह सहनश लत क प गम बर बन द य ह ल क
त म ह र समय नह ह प रथम अवस थ म मन चञ चल ह न क क रण ब द धजन धर म चरण म बह त द ष बत त ह अत त म इस व भवश ल लक ष म क स वन कर स खप र वक
ल त ह आठ द ग गज क सत न लगत ह इन द र क र ज य ज त ल त ह और धर म चरण करन व ल प रत य क व यक त क आत क त करन लगत ह र वण क अत य च र क
न कम स कम अपन श र आत र ख म ईश वर य आद श स उत पन न और इसल ए ईस ई धर म चरण म स व क र क य ज न य ग य म न ट र स क एक न टक क प क त ह म सम
क ट न अपन न त क स द ध त क श र आत इस तर क क स थ क - क वल वह ग ण धर म चरण ज प र ण र प स श भ ह एक श भ स कल प ह सकत ह क ई द सर ग ण इसक स थ न

रणस थल म क ल हल मच ज त ह स न दर कर ण एव ध र य क स थ न और मन स धर म चरण करन व ल ह द ष ट क ल य क ल क सम न भय वन सज जन क प लन व ल

  • इसल ए धर म चरण क उसपर क ई प रभ व नह पड सकत उच छ दव द क अन स र वर तम न शर र क स थ ह ज वन क उच छ द ह ज त ह इसक अन स र भ धर म चरण न रर थक
  • ह ह न द ब र ह मण अपन ध रण ओ स अध क धर म चरण क महत व द त ह यह ध र म क पन थ क व श षत ह धर म चरण म म ख यत ह यज ञ करन द नचर य इस प रक र
  • य ग स त तथ मह न भक त ह इनक अ ग र - स म त म स न दर उपद श तथ धर म चरण क श क ष व य प त ह सम प र ण ऋग व द म महर ष अ ग र तथ उनक व शधर
  • श च भ तर और ब हर क पव त रत इन द र य न ग रह इन द र य क हम श धर म चरण म लग न ध सत कर म स ब द ध क बढ न व द य यथ र थ ज ञ न
  • र प डल ग, सद श व ल ग, आत मल ग, ज ञ नल ग और श वल ग क छ: आध र क कथन ह धर म चरण श व प सन स तमह म य गम द र आद क व वरण भ इस त त र म ह अष टम
  • कर म स वर गप र पक एव च त तश द ध क रक म न ज त ह सभ स प रद य क धर म चरण प ण यकर म म न ज त ह इष ट प र वकर म र पल क क रक कर म भ प ण य कर म
  • स वय भ व मन स वय भ व मन ज एक धर मश स त रक र थ धर मग रन थ क ब द धर म चरण क श क ष द न क ल य आद प र ष स वय भ व मन न स म त क रचन क ज मन स म त
  • द व र ग रह क द ष प रभ व स अपन रक ष कर सकत ह ल ल क त ब म धर म चरण और सद चरण क बल पर ग रह द ष न व रण क झण ड ऊ च क य ह ज सस हम र इहल क
  • ह प र य: व श व म ज ञ न और व रक त प र ष सर वत र ह त आए ह क त धर म चरण क स क ष त फलव त त और कर मक ड क प रक ड व द व न भ रतवर ष म ह ह ए
  • क ल ए प रय ग भ कर सकत ह और उस स वर द ध त व स प ष ट भ पर इसक ल ए धर म चरण क ठ स आध र आवश यक ह धर म स व म ख ह कर अर थ प र जन म स लग न मन ष य
  • धर म न श सन क ल ए भ द र एव आच र क स म न य ब त 4 धर म चरण म श ल क प लन, 5 ल ग क धर म चरण क ब त बत न क ल ए धर ममह म त य क न यत क य ज न
  • प रभ क भक त न म ज प एव य ग स धन करन इसक आध र ह म ह श वर अपन धर म चरण क प र न ष ठ क स थ प लन करत ह तथ वह ज स स थ न द श प रद श शहर
  • अन धस य द र इव दर शन य व स ष ठ धर मस त र न प न प न य न मन ष य क धर म चरण और सत य स भ षण करन क ह प र रण द ह उसक कथन ह क अर मन ष य
  • उसक ल ल वत न म क सत - स ध व भ र य पत क स थ आनन द च त त स ऋत क ल न धर म चरण म प रव त त ह ई और भगव न श र सत यन र यण क क प स उसक वह भ र य गर भ ण
  • प र च न भ रत क श क ष - दर शन भ धर म स ह प रभ व त थ श क ष क उद द श य धर म चरण क व त त ज ग रत करन थ श क ष धर म, अर थ, क म और म क ष क ल ए थ इनक
  • श क षक क आपस स ब ध प र म और सम म न क थ स दग सद च र, व द य प र म और धर म चरण पर ज र द य ज त थ क ठस थ करन क पर पर थ प रश न त तर, व य ख य और
  • फ र कल न क हठधर म त और स द ध त क अस व क त तथ आच र और न त कत और न गर क धर म चरण क भगव न पर उनक ज र न उन ह सहनश लत क प गम बर बन द य ह ल क
  • त म ह र समय नह ह प रथम अवस थ म मन चञ चल ह न क क रण ब द धजन धर म चरण म बह त द ष बत त ह अत त म इस व भवश ल लक ष म क स वन कर स खप र वक
  • ल त ह आठ द ग गज क सत न लगत ह इन द र क र ज य ज त ल त ह और धर म चरण करन व ल प रत य क व यक त क आत क त करन लगत ह र वण क अत य च र क
  • न कम स कम अपन श र आत र ख म ईश वर य आद श स उत पन न और इसल ए ईस ई धर म चरण म स व क र क य ज न य ग य म न ट र स क एक न टक क प क त ह म सम
  • क ट न अपन न त क स द ध त क श र आत इस तर क क स थ क - क वल वह ग ण धर म चरण ज प र ण र प स श भ ह एक श भ स कल प ह सकत ह क ई द सर ग ण इसक स थ न
  • रणस थल म क ल हल मच ज त ह स न दर कर ण एव ध र य क स थ न और मन स धर म चरण करन व ल ह द ष ट क ल य क ल क सम न भय वन सज जन क प लन व ल

मनु स्मृति प्रथम अध्याय सृष्टि उत्पत्ति एवं.

अर्थात आचारात् विच्युतः विप्रः जो धर्माचरण से रहित द्विज है वह वेदफलं न अश्नुते वेद प्रतिपादित धर्मजन्य सुखरूप फल को प्राप्त नहीं हो सकता, और जो आचारेण तु संयुक्तः विद्या पढ़ के धर्माचरण करता है, वही सम्पूर्णफलभाक् भवेत्. दिल्ली तेरे राजभवन में…?. Is an pedia modernized and re designed for the modern age. Its free from ads and free to use for everyone under creative commons. धर्माचरण अंग्रेजी Glosbe बहुभाषी ऑनलाइन शब्दकोश. Examples of Dharmacharan धर्माचरण धर्माचरण के उदाहरण: लाल किताब में धर्माचरण और सदाचरण के बल पर ग्रह दोष निवारण का झण्डा ऊँचा किया है, जिससे हमारा इहलोक तो बनेगा ही, परलोक भी बनेगा संदर्भ Reference प्राय: विश्व में ज्ञानी और विरक्त पुरुष. Meaning of धर्माचरण in English धर्माचरण का डिक्शनरी. વસંત પંચમીના દિવસે, વિદ્યા,જ્ઞાન અને બુદ્ધિની દેવી સરસ્વતીની વિવિધ રીતે પૂજા કરવામાં આવે છે.મંત્રો દ્વારા કરવામાં આવતી પૂજા વિશેષ પરિણામ મળે છે.તો પ્રસ્તુત છે આ 13 શ્લોકો જે બોલવાથી મળશે સરસ્વતીનો વિશેષ. औरंगाबाद,धर्माचरण से जगत का कल्याण Magadh Express. नन्दकिशोर श्रीमाली बचपन से हमने पढ़ा है कि मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है। कोई भी व्यक्ति अकेला नहीं रह सकता है। इस कारण परिवाऔर समाज जैसी इकाइयां बनीं, उनसे जुड़े नियम और अनुशासन भी बने जिनका पालन करना हमारी नैतिक.

पीएमएस के निदेशक श्री प्रेम ने राज्यपाल सत्यपाल.

धर्माचरण. एक दिन बहू ने गलती से यज्ञवेदी में थूक दिया! सफाई कर रही थी, मुंह में सुपारी थी, पीक आया तो वेदी में थूक दिया. हालांकि बहू को यह देख बहुत आश्चर्य हुआ कि उतना थूक स्वर्ण में बदल गया है. अब तो वह प्रतिदिन जान बूझकर वेदी. धर्म और धर्माचरण Dev Vaidik. Suhirday Giri says, धर्माचरण और तपस्या से शक्ति प्राप्त होती है, संदेह नहीं किन्तु यदि उस शक्ति का द. Read the best original quotes​, shayari, poetry & thoughts by Suhirday Giri on Indias fastest growing writing app YourQuote. धर्माचरण का मर्म World Gayatri Pariwar. Bangalore News in Hindi: अगले भव में भी अच्छा सुख मिले इसके लिए भी धर्माचरण न करें.

ईश्वर को जानने वाला ही करता है धर्माचरण: स्वामी.

शायद यह मेरे पति का कोई गलत निर्णय है. ओह. इस धर्माचरण ने मुझे दिया ही क्या है? जिस नियम के पालन से ‎दिल कष्ट पाता रहे. मनुष्य को धर्माचरण सिखाती है स्मृतियां – Francis. मनीषियों के जीवन जीने की कला को धर्म का नाम दिया है। ऐसी कला जिसको सीखकर जीवन की सारी विकृतियों, कुरूपताओं का निवारण कर इसे सर्वांग सुन्दर और सुरुचिपूर्ण बनाया जा सकता है। इसके स्वरूप को और अधिक स्पष्ट करते हुए मैथ्यू अर्नाल्ड ने​. मोह और भय से मुक्त होने के लिए धर्माचरण जरूरी है. जब भी आप खुद को बहुमत की तरफ पाएं तो समझ जाइये कि अब रुक कर सोचने का समय है। मार्क ट्वैन धर्म. festival. शनि जयंती का पावन पर्व ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की अमावस्या को मनाया जाता है। यह हिन्दू धर्म का विशेष पर्व है। ख़बर. news उत्तर प्रदेश सिवान बिहार.

मनुष्य को धर्माचरण सिखाती है स्मृतियां.

धर्माचरण का लाभ कुल व संतान को मिलता है। राजपद और रामपद में जब चर्चा होने लगे तो भक्त रामपद को पकड़ता है, लेकिन खलमंडली राजपद के लिए दौड़ते हैं। ये बातें पयागपुर गांव में चल रही श्रीरामकथा में आचार्य प्रेमभूषण महाराज ने कही।. धर्म साधना का स्वर्णिम अवसर. कल सुबह से मैं सोच रहा हूँ कि क्या हमारे सनातन समाज से धर्म और धर्माचरण समाप्त होता जा रहा है। जहाँ विज्ञान अपने आप को साबित करा है, हर ओर हमें वैज्ञानिक चमत्कार दिख रहा है उसके उलट सच्चे धर्माचरण वाले व्यक्तित्व ढूंढने पर भी. Daily Hindi News – The First Online Hindi Newspaper from Sagar. राजसमंद जिला मुख्यालय के समीपवर्ती भाटोली ग्राम पंचायत के मेंघटिया की ढाणी स्थित आनंद मार्ग जागृति मंदिपर सोमवार को धर्माचरण गोष्ठी का आयोजन किया गया। आसपास के गांवों से आए श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए डॉ.

Navabharat धर्माचरण नवभारत।.

333984. धर्माचरण, 0, 122.160.180.0 locate, 2010 10 15:27. 333985. भठियारिन, 2, 210.212.162.0 locate, 2010 10 15:00. 333986. परगना, 1​, 210.212.162.0 locate, 2010 10 15:19. 333987. धर्माचरण, 0, 122.160.​180.0 locate, 2010 10 15:53. 333988. धर्माचरण, 0, 122.160.180.0 ​locate. News: जीवन में कब तक करना है धर्माचरण. तमाम जिंदगी धर्माचरण में व्यतीत करने के बावजूद आपने सेना की उपेक्षा नहीं की। सेना को अस्त्र शस्त्र से सज्जित करने व उसके प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान दिया। प्रशासकीय व कूटनीतिक गतिविधियों के साथ आपका आर्थिक नजरिया भी Следующая Войти Настройки Конфиденциальность Условия.

परोपकार ही सफल मानव जीवन की सार्थकता, अग्रोहा.

अतः अज्ञानियों के मार्गदर्शन के लिये ज्ञानी को भी धर्माचरण करना आवश्यक है और वीरशैव दर्शन में उसके लिये धर्माचरण करने का विधान भी है सि.शि. 16 7 8 पृष्‍ठ 92 । जीवन्मुक्‍त होकर भी कर्म करने से ज्ञानी को कोई हानि नहीं है​। जैसे जल में खींची. श्री भक्तमाल धर्माचरण का अर्थ क्या है? १. धर्माचरण meaning in English, धर्माचरण का अर्थ अंग्रेजी में, धर्माचरण definition in English, धर्माचरण की परिभाषा अंग्रेजी में This page is showing answer of What is meaning of धर्माचरण in English? इस पेज पर प्रश्न धर्माचरण का मतलब अंग्रेजी में क्या होता है​?. DemocracyPeople.कॉम Democ. इस समय संबोधित करते हुए संस्कार भारती की प्रचारक श्रीमती संध्या दीक्षित ने कहा कि, भारतीय इतिहास में राष्ट्र के लिए सर्वस्व अर्पण करनेवाली महिलाएं सदैव धर्माचरण एवं धर्मपरंपराओं का पालन करती थीं। महिलाओं को सुसंस्कृत. Ved vyas भगवान वेदव्यास और उनकी व्रतचर्या Pandit. भोग की सुखद कल्पना, अरमानों की हारमाला, रंगीन स्वप्नों की सुहावनी तरंगों में डूबा मानव सोचता है, धर्माचरण का समय अभी नहीं है।.

धर्माचरण का मर्म Literature Hindi All World Gayatri Pariwar.

कहा कि धर्माचरण करने से आत्म बल मिलता है, तथा कठिन से कठिन कार्य भी सहजता से संपन्न हो जाता है. बाल संत मानस मर्मज्ञ शक्तिपुत्र महाराज ने राम कथा शुरू करते हुए कहा कि राम कथा सुनने मात्र से मनुष्य को सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है. Total and children get the benefit of Dharmacharan Premabhushan. किया जाने वाला पवित्और शुद्ध आचरण। आज का मुहूर्त. muhurat. शुभ समय में शुरु किया गया कार्य अवश्य ही निर्विघ्न रूप से संपन्न होता है। लेकिन दिन का कुछ समय शुभ कार्यों के लिए उपयुक्त नहीं माना जाता है जैसे राहुकाल। धर्म. festival. शनि जयंती. धर्माचरण Meaning in Hindi धर्माचरण का हिंदी GyanApp. उन्होंने 14 वर्षीय बालक पद्म नाहटा, पुत्र मनोज नाहटा की आठ दिन की तपस्या की अनुमोदना करते तथा बाल तपस्वी को आशीर्वाद देते हुए कहा कि अहिंसा से धर्म का आचरण प्रारंभ शुरू होता है, संयम से धर्माचरण की वृद्धि और तप से धर्माचरण.

धर्माचरण meaning in English, धर्माचरण का.

यदि धर्माचरण जीवन में आ गया तो सुख इहलोक एवं परलोक दोनों में प्राप्त होता है। यदि जीवन में धर्माचरण नहीं होगा तो जीवन में धनलोलुपता आने से इहलोक, एवं परलोक बिगड़ जाते हैं। स्वामी शुक देवानंद ने कहा कि धर्म जीने के लिए होता. बौद्ध धर्म में नैतिकता Ethics in Buddhism Drishti IAS. स्मृति ग्रंथों का महत्व सनातन धर्म में बहुत रहा है। इनकी संख्या 18 है। इन्हें मनु, अत्रि, विष्णु, हारीत, यम, याज्ञवल्क्य, अंगिरा, शनि, संवर्तक, कात्यायन, शाण्डिल्य, गौतम, वशिष्ठ, दक्ष, वृहस्पति, शातातप, पराशर तथा क्रतु, 18 ऋषियों. धर्माचरण अंग्रेजी हिंदी शब्दकोश रफ़्तार. धर्माचरण करने में आलस्य मत करें धर्माचरण करने में आलस्य मत करेंसाधना परक धर्म के साथ रचनापरक धर्म वर्तमान की सबसे बड़ी जरूरत है। रचनात्मक धर्म का मतलब परोपकार से है, सेवा भावना से है। ऐसे कायरें में तकनीक और युवा शक्ति का.

Damoh news Naidunia.

समयोचित पद्यमालिका धर्माचरण. अजरामरवत् प्राज्ञो विद्यामर्थं च साधयेत् गृहीत इव केशेषु मृत्युना धर्ममाचरेत्. समयोचित पद्यमालिका. Virtuous men go about collecting knowledge and wealth as if they will live for ever. When it comes to following. धर्माचरण सुभाषितानि Subhashitani. धर्माचरण dharmacharaN Meaning in English. Noun. 1. talisman 2. religious conduct 3. acting according to the tenets of religion. धर्माचरण meaning in Hindi, Meaning of धर्माचरण in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.​, helpful tool of English Hindi Dictionary. Previous Word धर्मांधता Next. Dictionary ಭಾರತವಾಣಿ Kannada Part 2. स्वास्थ्य धर्माचरण से ही शांति संभव है. इंडिया. निर्भया के दोषियों की फांसी का रास्ता साफ, क्यूरेटिव पिटिशन 7 min ago. इंडिया. बाघ व शावक के पंजों का मिला निशान, जंगल में जाने पर लगी 7 min ago. इंडिया. मध्‍यप्रदेश सरकार विकास कार्यों के. Kundli Tv अथर्ववेद के इस श्लोक में छुपी है बहुत बड़ी. 52363: धर्माचरण पूर्वक वेदों और वेदाग्ड़ो का अध्ययन और उनमें निहित तत्वज्ञान की जिज्ञासा - यह श्रेय प्राप्ति का उत्तम साधन है. 52364: जिसे कल्याण की कामना हो उसे इन्द्रियों के विषय शब्द, स्पर्श, रूप, रस और गन्ध का अधिक सेवन नही करना चाहिये.

धर्मानुष्ठान का पर्यायवाची – SandeepBarouli.

27 June 2019 PM. जीवन में कब तक करना है धर्माचरण. RJ नितिन​. This browser does not support the video element. RJ नितिन. Top Posts. मूंगफली के तेल के फायदे गीता का पाठ करने से मिटेगा पुनर्जन्म का भय औपचारिकता साबित हो रहा अग्निशमन विभाग का अभियान,. 13 સરસ્વતી મંત્રો જે ઉચ્ચારવાથી મળશે વિદ્યા. धर्मविहित संस्कारों और कर्मकाण्डों को कराने का कार्य. तृतीय. धर्मग्रन्थों की व्याख्या करने, धर्मादेश जारी करने एवं धर्मोपदेश के कार्य. चतुर्थ. धर्माचरण की पालना करने, धार्मिक भावनाओं की रक्षा करने, धर्मपरक कार्यों के लिए प्रेरित. मेंघटिया की ढाणी में धर्माचरण गोष्टी एवं. धर्माचरण अहम मुद्दा था तो तब इसे उठाना था लोकहित मे इस मुद्दे को जन को समझाना था संविधान की मर्यादा के बीच से राह निकल आती लोकतंत्र कुछ अधिक सबल होता कुछ ताकत बढ़ जाती आज देश के सविधान की सत्ता को ललकार रहें.

धर्माचरण HinKhoj Dictionary.

ईश्वर को जानने वाला ही करता है धर्माचरण: स्वामी हिमांशु Pathankot News,पठानकोट न्यूज़,पठानकोट समाचार. Hindi Corpus Search Enter the word or phrase: Align to searched. तेरापंथ सभा भवन, साहूकारपेट में संम्बोधि पुस्तक पर विशेष पाथेय प्रदान करते हुए मुनि श्री ज्ञानेन्द्रकुमार कहा कि आज व्यक्ति धर्म का सम्बन्ध भौतिक सुख की प्राप्ति में जोड़ देते हैं, लेकिन धर्माचरण का फल भौतिक सुख सम्पदा की प्राप्ति.

Fcr cTN Shodhganga.

धर्माचरण से दीर्घायु आचार से उत्तम सन्तान आचार से अक्षय धन प्राप्त होता है धर्माचरण बुरे अधर्मयुक्त लक्षणों का नाश कर देता है । धर्माचरण ही से दीर्घायु, उत्तम प्रजा और अक्षय धन मनुष्य को प्राप्त होता है और धर्माचरण बुरे अधर्मयुक्त. ☘️ ️ धर्माचरण ️☘️ एक दिन एक बहू ने ग. धर्म करने से वर्तमान अच्छा होता है और भविष्य भी सुधरता है संसार के सभी सुख धर्माचरण से ही मिल सकते हैं आचरण करना राह है पुरुषार्थ करना उसका फल या चाह है यह मंगल उद्गार नन्हे मंदिर की धर्मशाला में आचार्य उदार सागर महाराज ने.