अब्दुल अजीज इब्ने सऊद

इब्ने सऊद दोरहٔ मिस्र के अवसर पर शाह फ़ारूक़ के साथ नजद का सऊदी परिवार उन्नीसवीं सदी के शुरू में द्वीप नमाए अरब के बहुत बड़े हिस्से पर काबिज हो गया था लेकिन मिस्री शासक मोहम्मद अली पाशा ने आल सऊद इन सरकार को 1818 ई. में समाप्त कर दिया था। सऊदी परिवार इसके बाद लगभग 80 साल परेशान फिरते रहे यहां तक कि 20 वीं सदी के प्रारंभ में इसी परिवार में एक और ज़बरदस्त व्यक्ति पैदा हुई जिसका नाम अब्दुल अजीज इब्ने सऊद था जो आमतौपर सुल्तान इब्ने सऊद के नाम से मशहूर हैं।

1. सऊदी सरकार का गठन
इब्ने सऊद उन्नीसवीं सदी के अंत में अपने पिता के साथ अरब के एक तटीय शहर कुवैत में जला ो्नी जीवन गुज़ार रहे थे। वह बड़े बा हौसला इंसान थे और इस धुन में रहते थे कि किसी तरह अपने जलवायु ाजदाद की खोई हुई सरकार चालू करें। आखिरकार 1902 ई. में जबकि उनकी उम्र तीस साल थी, उन्होंने केवल 25 साथियों की मदद से नजद के अध्यक्ष स्थान रियाज पर कब्जा कर लिया। उसके बाद उन्होंने बाकी नजद भी जीत लिया। 1913 ई. में इब्ने सऊद ने खाड़ी फारस के तटीय प्रांत ालहसाय पर जो उस्मान तुर्कों द्वारा प्रभाव था, कब्जा कर लिया। इसके बाद यूरोप में प्रथम विश्व युद्ध छिड़ गई जिसके दौरान इब्ने सऊद ने ब्रिटेन से दोस्ताना संबंध तो स्थापित रखे लेकिन तुर्कों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। युद्ध के अंत के बाद शरीफ हुसैन ने खलीफा बनने की घोषणा कर दी तो इब्ने सऊद ने हजाज़ पर भरपूर हमलة कर दिया और चार महीने के भीतर पूरे हजाज़ पर कब्जा कर लिया और 8 जनवरी 1926 ई. को इब्ने सऊद ने हजाज़ का राजा बनने की घोषणा कर दी। सबसे पहले जिस देश ने इब्ने सऊद की बादशाहत को स्वीकार किया वह रूस था। रूस ने 11 फ़रवरी 1926 ई. को हजाज़ और नजद पर सऊदी सरकार को स्वीकार किया लेकिन ब्रिटेन ने देर से काम लिया और अनुबंध जदा के बाद स्वीकार किया। इस तरह सऊदी राज्य अपने पतन के एक सौ साल बाद एक बार फिर पूरी ताकत से उभर आई और अरब की सबसे बड़ी शक्ति बन गई। मूतमर इस्लामी

2. मूतमर इस्लामी
मक्का और मदीना के पवित्र शहरों पर कब्जे के बाद इब्ने सऊद ने खलीफा बनने की कोशिश नहीं की बल्कि हजाज़ का प्रबंधन और आधुनिक दौर की समस्याओं को हल करने के लिए उन्होंने 13 से 19 मई 1926 ई. के बीच सारी दुनिया के मुसलमान नेताओं शामिल एक मूतमर इस्लामी मांगी जिसमें तेरह इस्लामी देशों ने भाग लिया। मूतमर में इस्लामी हिंद के एक प्रतिनिधिमंडल ने भी भाग लिया, जिसका सबसे प्रमुख व्यक्ति मौलाना मोहम्मद अली जौहर थे। हालांकि यह मूतमर अपने उद्देश्य में सफल न हो सकी लेकिन गठबंधन इस्लामी की आंदोलन में एक मील का पत्थर के रूप है। यह मुसलमानों का पहला अंतर्राष्ट्रीय इजतिमाअ था जिसे एक प्रमुख राज्य ने मांगा था। तनाज़िहٔ यमन

3. तनाज़िहٔ यमन
1930 में इब्ने सऊद ने िसीऔर नजरान के स्थानों को सऊदी राज्य में शामिल किया। ये दोनों क्षेत्र चूंकि यमन की सीमा पर स्थित थे और उन पर यमन का भी दावा था इसलिए सऊदी अरब का यमन से मुठभेड़ हो गया। सऊदी अरब की सेना ने जो यमन की सेनाओं की तुलना में अधिक संगठित और धार्मिक भावना से समर्पित थीं, यमन को हराया और 1934 ई. में यमन के एक बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया लेकिन इस साल कुछ अलग मुसलमानों के प्रयासों से जिनमें अमीर शकेब ारसलान का नाम उल्लेखनीय है, ताइफ़ में सऊदी अरब और यमन के बीच 20 मई 1934 ई. को एक समझौता हो गया और सऊदी सेनाओं को यमन से वापस बुला लिया गया। सऊदी सेना ने इससे पहले जोर्डन को भी अपने दायरहٔ सत्ता में शामिल करने की कोशिश की लेकिन अंग्रेजों के दबाव के कारण वह अपने उद्देश्य में सफल न सकें. अगर इब्ने सऊद जोर्डन और यमन अभियान में सफल हो जाते तो पूरा द्वीप नमाए अरब के तहत आ जाता लेकिन उस समय भी इब्ने सऊद सरकार क्षेत्रफल के लिहाज से एशिया में सबसे बड़ी अरब सरकार थी और यमन, ओमान और कुछ तटीय क्षेत्रों को छोड़कर पूरे द्वीप नमाए अरब पर सऊदी बालाहस्ती स्थापित थी। 22 सितम्बर 1932 ई. को नजद और हजाज़ की नई सरकार को सऊदी अरब का नाम दिया गया। सुधार

4. सुधार
ीालता सम्मेलन के बाद एक जहाज़ पर इब्ने सऊद के राष्ट्रपति फ्रैंकलिन रोज़वैलट दाएं से मुलाकात इब्ने सऊद और उनके नजदी साथी चूंकि मुहम्मद बिन िबदालोहाब के पेरू थे, जो एक महान सुधारक थे, इसलिए मनुष्य सऊद इस्लामी शिक्षाओं का अधिकतम पालन करने की कोशिश की। इब्ने सऊद बादशाहत को तो समाप्त न कर सके लेकिन वह सारे काम विद्वानों के एक संसद से सलाह से अंजाम देते थे और उन्होंने उसकी पूरी कोशिश की कि देश में इस्लामी अहकाम पर अमल किया जाए. उन्होंने सारे देश में शराब की खरीद व बिक्री बंद कर दी जो तुर्कों के दौर में हजाज़ आदि में प्रचलित हो गई थी। इब्ने सऊद जब तक जीवित रहे अन्य सामाजिक बुराइयों को भी फैलने का मौका न दिया। दीनी तालीम के विकास के लिए 1948 में जामिया ाज़हर की तर्ज पर एक फ़िक़्ह कॉलेज की स्थापना की। इब्ने सऊद में तदबर और प्रशासनिक क्षमता वह सभी गुण थे जो एक बानय सरकार में होनी चाहिए। उन्होंने अपने पड़ोसी देशों से झगड़े तय करने में जिस दौर ांदीशी, उदारवादी और विस्तार हृदय का परिचय दिया, वह इस बात का स्पष्ट सबूत है। उनके बड़े कारनामों में अरब के गृह बदोशों को बस्तियों में आबाद करना और उन्हें कृषि तैयार करना था जबकि उनकी सरकार ने लोगों की नैतिक प्रशिक्षण का भी इंतजाम किया। इब्ने सऊद का एक और कारनामा देश में शांति व अमान की स्थापना है यहाँ तक कि इतिहासकारों ने यह तक लिखा है कि धरती अरब में सही शांति अमान स्थापित करने में इतिहास में केवल दो आदमी सफल एक हज़रत उमर रज़ियल्लाहु िना और अन्य इब्ने सऊद उसके विपरीत हज़रत अली इब्ने अबी तालिब रज़ियल्लाहु िना 599 - 661 35 हिजरी में मुसलमानों ने खिलाफ़त इस्लामी का पद हज़रत अली अलैहिस्सलाम के सामने पेश किया। हज़रत अली रज़ियल्लाहु िना का दौर खिलाफ़त फाइबर दवानयों और अराजकता का शिकार रहा मगर उसका मतलब हर गज यह नहीं है कि हज़रत अली रज़ियल्लाहु िना एक ना योग्य शासक थे बल्कि तथ्य यह है कि अराजकता और फाइबर दवानियाँ मद प्रतिद्वन्द्वी ही पैदा करते हैं और हज़रत अली इब्ने अबी तालिब रज़ियल्लाहु िना के शासनकाल को साज़शों के नज़र किया गया जिसकी उदाहरण युद्ध सफ़ेन है - बनी हाशिम ऑल नबी ने कभी सत्ता पाने के लिए साज़शें नहीं कीं और आल सऊद के दौर में भी मद प्रतिद्वन्द्वी हुसैन इब्ने अली शरीफ़ मक्का थे और रसूल पाक सलिम परिवार से थे और इस वजह से 1908 ई. में शरीफ़ मक्का का गौरव हासिल किया। 1924 ई. में नजद के फरमानरवा अब्दुल अजीज इब्ने सऊद से शिकस्त खाकर सिंहासन का त्याग हो गया। 1924 ई. से 1931 तक साइप्रस में निर्वासित है। मगर आल सऊद के साज़शें नहीं की इसलिए ऑल सऊद सफल राजा साबित हुए - चूंकि अरब का अधिकांश क्षेत्र रेगिस्तान और बंजर पहाड़ी क्षेत्रों से बना है इसलिए आय के सूत्रों कम हैं इसलिए सुल्तान इब्ने सऊद देश को आर्थिक और शैक्षणिक लिहाज से अधिक विकास न दे सके लीक उनके अख़ीर शासनकाल में अरब में मिट्टी के तेल के कुएं इस बार निकाले आए कि देश की काया पलट गई और सरकार को करोड़ों रुपये वार्षिक आय होने लगी। तेल की खोज से पहले 1928 ई. में सऊदी अरब की कुल आय 70 लाख डॉलर थी और इसमें से आधी राशि ्षाजयों पर टैक्स लगाकर प्राप्त की जाती थी लेकिन इब्ने सऊद के संकल्प के अंतिम दिनों में केवल तेल से होने वाली आय तीन करोड़ 60 लाख डॉलर तक पहुंच गई। इस अतिरिक्त आय से सुल्तान ने कई उपयोगी और रचनात्मक काम किए जिनमें सबसे महत्त्वपूर्ण काम रेल पटरी बिछाने था। यह पटरी खाड़ी फारस की बंदरगाह दमाम से राजधानी रियाद बिछागई जो साढ़े तीन सौ मील लंबी है और 1951 में पूरा हुआ। इब्ने सऊद का 51 वर्षीय शासनकाल 1953 ई. में उनके निधन के साथ समाप्त हुआ। वह सऊदी सरकार के असली संस्थापक थे और उन्होंने एक पिछड़े और भी संसाधन देश को जिस तरह विकास के रास्ते पर डाला, इससे उनका शुमार बुला शक व शुबहे तारीख़े इस्लाम के प्रमुख शासकों में होती है। इब्ने सऊद वहाब आस्था रखते थे। उन्होंने हजाज़ पर कब्जा करने के बाद स्वर्ग ालबकीि मदीना में सहाबा कराम और अहले बैत की कब्रों को ध्वस्त करा दिया। सऊदी अरब

  • सम म न और गर मज श स स व गत क य गय थ क श न शहर क श सक, अहमद ब न - अब द ल - अज ज - ब न - दल ह - अज ल म स अल म ब र क क आगमन स ब हद सम म न त ह ए और हर स ल
  • अल इब न अब त ल ब अरब : علی ابن ابی طالب क जन म 17 म र च 600 13 रजब 24 ह जर प र व म सलम न क त र थ स थल क ब क अन दर ह आ थ व प गम बर म हम मद
  • ए टरप र इज प र डक ट स 86 म हम मद अल अम द US 8.0 ब ल यन सऊद अरब क रल प ट र ल यम ह ल ड ग स 86 अब द ल अज ज अल घ र र एव पर व र US 8.0 ब ल यन स य क त अरब अम र त

Rau allegations of disappearing three saudi princes सऊदी के.

उसने मुझे तीन तलाक दे दी उसके बाद मैंने अब्दुल रहमान बिन जबीर से निकाह कर लिया परन्तु उसके पास उसका लिंग कपडे इब्न माजाह, खं. 4 हदीस 2794, 3 अय्याशी के लिए जिहाद इस्लाम में औरतों को माल property booty माना जाता है.जिहादी. इस्लाम में नारी की स्थिति २ कुरान में बीबियाँ. ये सभी भाई आधुनिक सऊदी अरब या तीसरी सऊदी राजसत्ता के संस्थापक मलिक अब्दुल अज़ीज़ आल ए सऊद के बेटे रहे हैं. सऊदी अरब में सात सुदेरी बादशाह अब्दुल अज़ीज़ की एक बीवी हस्सा सुदेरी की संतान नाम का एक गुट बहुत ही प्रभावशाली. मोदी ने रियाद में मसमक किले का दौरा किया IBN7.com. Показаны результаты по запросу. General Awareness for NABARD Assistant Manager Exam: 14th. हिंदी ग़ज़ल, कविता संग्रह एंड्रॉइड के लिए एक पुस्तकें और संदर्भ एप्लिकेशन है। 9Apps की आधिकारिक वेबसाइट हिंदी ग़ज़ल, कविता संग्रह को मुफ्त डाउनलोड और हिंदी ग़ज़ल, कविता संग्रह चलाने की सुविधा प्रदान करती है। डाउनलोड करें और अब हिंदी. हिंदी करंट अफेयर्स क्विज़ 21 अगस्त 2019 Fresherslive. रियाद: सऊदी अरब के बादशाह सलमान इब्न अब्दुल अजीज अल सऊद ने आज प्रिंस मुकरिन….

Page 1 क्या आज का TOI देखा? Fake WhatsApp downloaded by.

बता दें कि प्रिंस बंदर सऊदी अरब के शाह व्यवस्था के संस्थापक शाह अब्दुलअजीज इब्न सऊद के सबसे बड़े बेटे थे। Prince Bandar bin Abdulaziz al Saud. प्रिंस बंदर कई सालों सें बीमार थे. स्थानीय मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि प्रिंस बंदर कई सालों से. Current Controversy Of Saudi Arabia When It Founded Founder. के आरोप लगागए हैं, जिस भ्रष्टाचार रोधी कमेटी के कहने पर यह कार्रवाई हुई उसका गठन सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज ने शनिवार यानी 4 नवंबर को ही किया और इसका चेयरमैन क्राउनप्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को बनाया गया।. सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस बर्खास्त: शाही फ़रमान. अब्दुलअजीज इससे पहले सऊदी अरब की गृह मंत्रालय का जिम्मा संभाल चुके हैं। साल 1932 में मौजूदा सऊदी राजशाही की स्थापना करने वाले किंग इब्न सऊद के पोते ने यह अंदरूनी जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि पूरी उलेमा तो नहीं, लेकिन​. Saudi Arabia GK in Hindi SSChelp. आधुनिक सऊदी अरब के संस्थापक शाह अब्दुल अजीज अल सऊद के 45 बेटों में 13वें नंबर के बेटे थे। प्रारंभिक शिक्षा के बाद शाह अब्दुल्ला के सौतेले भाई 79 वर्षीय सलमान इब्न अब्दुल अजीज सऊदी अरब के नए बादशाह बनागए हैं। वह 2011 से ही. सऊदी अरब कश्मीर मसले के हल में मददगार नहीं हो सकता. महज एक साल ही हुआ है, लेकिन विवादों के चलते उनकी शिक्षा लॉ ग्रैजुएट किंग सऊद यूनिवर्सिटी पली प्रिंसेस सारा बिन्त मशूर बिन अब्दुलअजीज अल सउद. बेदखल कर क्राउन किंग अब्दुलअजीज़ इब्न सऊद ने 1932 में सऊदी अरब बसाया. था।.

सीरिया के अजाज प्रांत में कार बम धमाका, 19 लोगों.

जो चीज़ ब्रिटेन और अब्दुल अज़ीज़ बिन सऊद के संबंधों को बयान करती है उसे अरब प्रायद्वीप में ब्रिटेन के दो बुनियादी हेनरी विलियम शेक्सपियर के प्रयास उसमानी साम्राज्य के ख़िलाफ़ अब्दुल अजीज की सेवा और वहाबियों के माध्यम से यहां तक कि सलफी विचारधारा की बुनियाद रखने वाले इब्न तय्यमिया ने भी इस प्रकार का आदेश नहीं दिया है जबकि वह. GK Dhingra Classes Raisinghnagar. अब्दुलाजीज इब्न सऊद. 2. सऊद बिन अब्दुलअजीज, फैजल बिन अब्दुलअजीज, खालिद बिन अब्दुलअजीज, फाहद बिन अब्दुलअजीज, अब्दुल्लाह बिन अब्दुलअजीज, सुल्तान बिन अब्दुलअजीज, तलाल बन अब्दुलअजीज, नैयफ बिन अब्दुलअजीज, सल्मान बिन.

Saudi Arabias Prince Bandar bin Abdul Aziz passes away at 96.

सऊद अब्दुल बिन अजीज अल सऊद ने किंग अब्दुल अजीज की मौत के बाद सऊदी सरब की कमान संभाली. लेकिन हाउस सऊदी राजपरिवार ने ही मौजूदा सऊदी अरब की भी स्थापना की थी और इसका श्रेय आदिवासी नेता मोहम्मद इब्न सऊद को जाता है. मोहम्मद. 443493 के 393092 है 358582 में 304762 की 225289 से. ◼प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने रियाद में सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्‍दुल अजीज अल सऊद से मुलाकात की। दोनों नेताओं 644 ईसा पश्चात् दूसरे मुस्लिम खलीफा उमर इब्न अल खत्ताब की मदीना में एक फारसी गुलाम ने हत्या कर दी। 1394 फ्रांस के​. सऊदी रॉयल फैमिली सऊदी रॉयल Navbharat Times. रियाद के अद दिरा में अल इमाम तुर्की इब्न अब्दुल्ला इब्न मुहम्मद मार्ग पर स्थित मसमक किला पर्यटकों के लिए एक मुख्य यह किला मोहम्मद बिन अब्दुल्ला बिन रशीद के शासन काल में निर्मित हुआ था और यह उस समय शाह अब्दुलअजीज के अधीन आ इसके पहले रियाद के गवर्नर प्रिंस फैसल बिन बंदर अल सऊद ने किंग खालिद अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर मोदी की अगवानी की।.

Page 1 आप पढ़ रहे हैं देश का सबसे विश्वसनीय और नंबर 1.

शाह फैसल के पिता और हिजाज और नज्द को मिलाकर उसे सऊदी अरब के नए नाम से देश स्थापित करने वाले अब्दुल अजीज इब्न सऊद की बाईस पत्नियों की पैंतालीस संतानों से आज पंद्रह हजार बच्चे हैं जो किसी न किसी वजह से सत्ता के सबसे करीब बने. Blogs Mohammed bin Laden Lookchup. अजीज अपनी गिरफ्तारी का विरोध कर किंग फहद के सबसे छोटे बेटे प्रिंस. रहे थे और फायरिंग में अब्दुलअजीज इब्न. में करप्शन के सऊद बिन फैजल बिन खालिद बिन फाहद बिन अब्दुल्लाह बिन सुल्तान बिन तलाल बिन नैयफ बिन. मुकरीन बिन 2017. सऊदी अरब में सर्जिकल स्ट्राइक, शाही हस्तियों. रियाद के अद दिरा में अल इमाम तुर्की इब्न अब्दुल्ला इब्न मुहम्मद मार्ग पर स्थित मसमक किला पर्यटकों के लिए एक मुख्य यह किला मोहम्मद बिन अब्दुल्ला बिन रशीद के शासन काल में निर्मित हुआ था और यह उस समय शाह अब्दुलअजीज के अधीन आ इसके पहले रियाद के गवर्नर पिं्रस फैसल बिन बंदर अल सऊद ने किंग खालिद अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर मोदी की अगवानी की।.

Daily Gk Zone – Telegram.

अ धवेशन क तैयार, वदेश मंत्री डॉ इब्रा हम इब्न अब्दुलअजीज अल असफ क अध्य ता म क गई।. सऊद अरब के सहायक महास चव यूसेफ अल्दोबाई, जम्मू कश्मीर के लए चार वशेष दूत म शा मल थे, िजन्ह. मक्का म समूह क शखर बैठक म नयुक्त. सउदी अरब में पीएम मोदी ने भारतीय कर्मचारियों से. सुल्तान जलाला तल मलिक अब्दुल अजीज इब्न सऊद जो मक्का के हाकिम भी थे के व्यक्तिगत मेहमान भी रहे।इन्हीं सुल्तान ने मदीना की जन्नतलबाकी की सारी कब्रें जो मुहम्मद की बीबियों, बेटी फातिमा और सहाबाओं की थीं तुड़वाकर समतल.

कर ट अफेयसर् 5 जून 2019 कर ट अफेयसर् 5 जून IBPS Guide.

Gulf News in Hindi: प्रिंस बंदर बिन अब्दुलअजीज अल सऊद prince bandar bin abdulaziz सऊदी अरब के पहले शाह अब्दुल अजीज के 10वें बेटे थे बंदर बिन बता दें कि प्रिंस बंदर सऊदी अरब के शाह व्यवस्था के संस्थापक शाह अब्दुलअजीज इब्न सऊद के सबसे बड़े बेटे थे।. Saudi Arabia: Prince Salman Elder Brother Bandar Dies At 96 Year. 1930 में, उन्होंने अपना खुद का निर्माण व्यवसाय शुरू किया और सऊदी अरब के पहले सम्राट अब्दुल अजीज इब्न सऊद के ध्यान में आने के बाद, उन्होंने अंततः ऐसी सफलता हासिल की कि उनका परिवार राज्य के सबसे धनी गैर शाही परिवार के रूप में जाना जाने. आयरिश मुस्लिम समुदाय के संस्थापक के पिता की. B मोहम्मद बिन सलमान अल सऊद. c अब्दुल्ला द्वितीय इब्न अल हुसैन. d मुक्रिन बिन अब्दुलअजीज. e जाबेर अल अहमद अल सबा. Q4. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 2017 18 से 2019 20 तक तीन वर्षों के लिए 12 वीं योजना के अतिरिक्त 5.500 करोड़ रुपये के. Saudi King Abdullah was a cautious reformer Naidunia. 298 मोहब्बत 298 लोकांना 298 संभाल 298 संवाददाताओं 298 हिमाचल 297 अब्दुल 297 उपवास 297 कानों 297 गेम 297 जोड़ने 297 तोड़ने 53 अजीज 53 अपूर्ण 53 अपूर्व 53 अभीं 53 अलग थलग 53 असहमत 53 असोत 53 अहिंसक 53 आकाशने 53 आंखो 53 आणले 53 आदम 53 आपन 53 आर. आपूॢत 29 आफिसर 29 आयुष 29 आरटीई 29 आर्क 29 आवडले 29 आसाम 29 इट्स 29 इन्फॉर्मेशन 29 इब्न 29 इंस्ट्रूमेंट्स 29 उठले 29 ऋता षायद 4 षिकार 4 षोडश 4 षोडशी 4 षोड़शोपचार 4 सऊद 4 संक 4 संकटकाल 4 संकटनाशन 4 संकटातून 4 सकति 4.

Niraj snatan इस्लाम का सबसे कट्टरपंथी सबसे खतरनाक.

प ी प्रिंसेस सारा बिन्त मशूर बिन अब्दुलअजीज अल सउद किंग अब्दुलअज़ीज़ इब्न सऊद ने 1932 में सऊदी अरब बसाया था। सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ अल सऊद की तीसरी प ी के सबसे बड़े बेटे एमबीएस का साल 2015 के पहले किसी ने नाम तक नहीं. बदल रहा है सऊदी अरब इंडिपेंडेंट मेल. Saudi Arabias Prince Bandar bin Abdul Aziz passes away at 96 सऊदी अरब के शाह सलमान के भाई बंदर बिन अब्दुलअजीज अल सऊद का रविवार को निधन शहजादे बंदर सऊदी अरब के शाह व्यवस्था के संस्थापक शाह अब्दुलअजीज इब्न सऊद के सबसे बड़े जीवित बेटे थे।. हिंदी ग़ज़ल, कविता संग्रह के लिए Android फ्री 9Apps. किंग इब्न सऊद फ्रैंकलिन रूजवेल्ट के साथ किंग सलमान. रियाद: सऊदी अरब में वो हो रहा है जो अब तक सऊद अब्दुल बिन अजीज अल सऊद ने किंग अब्दुल अजीज की मौत के बाद सऊदी सरब की कमान संभाली। लेकिन आऊस ऑफ सऊद में तनावपूर्ण स्थिति. Eight of the 12 surviving sons of Saudi Arabias monarch support. 3 इब्न सऊद. 4 अब्दुल्ला. 5 इनमें से िोई नहीं. उत्तर:। 1. सलमान बबन अब्दुलअजीज अल सऊद 23 जनर्री 2015 से सऊदी अरब िे राजा, सऊदी अरब िे प्रिान मंत्री और. दो पवर्त्र मक्स्जदों िे िस्टोडियन हैं। Q.9. Which of the following volcanoes is in the list of UNESCOs. Q.1. Which company has toppled Indian Oil Corp IOC to regain. राजनीति वैधता पूरी तरह खत्म नहीं हो, इसके लिए सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ अल सऊद प्रमुख इसी तरह, जैसा कि मैंने खुद देखा, कट्टर पर व्यावहारिक पूर्व मुख्य मुफ्ती शेख अब्दुल अजीज इब्न अब्दुल्ला इब्न बाज का. सईद अब्दुल अजीज एक यमनी व्यापारी था, जो अपने प्रतिभाशाली चरित्और व्यवहार से प्रेरित होकर किंग और मलक्का प्रिंस सुल्तान इब्न अब्दुल अज़ीज़ अल सऊद ऑनलाइन मुद्दा 2001 तक परोपकारी उद्देश्यों के लिए छपा, वॉल्यूम 8, पी.696।.