• यज़ीदी

    यज़ीदी या येज़ीदी कुर्दी लोगों का एक उपसमुदाय है जिनका अपना अलग यज़ीदी धर्म है। इस धर्म में वह पारसी धर्म के बहुत से तत्व, इस्लामी सूफ़ी मान्यताओं और कुछ ईसा...

  • मागी

    प्राचीन ईरान में पारसी धर्म के पुजारियों को मागी कहते थे। इन्हें उच्च वर्ग का समझा जाता था। इस्लाम के आने के बाद ये ईरान के प्राचीन धर्म के प्रतीक बन गए और म...

  • पारसी

    पारसी धर्म के अनुयायियों को पारसी कहा जाता है। यह ईरान के प्राचीन जरदोश्त धर्म को मानते है और आज ईरान तथा भारत के कुछ क्षेत्रों में पाए जाते हैं।

  • दखमा

    दखमा या टॉवर ऑफ साइलेंस पारसियों के कब्रिस्तान को कहते हैं। यह गोलाकार खोखली इमारत के रूप में होता है जिसमें शव कौओं, चीलों आदि के खाने के लिए फेंक दिये जाते...

  • ज़रथुश्त्र

    ज़रथुश्त्र, ज़रथुष्ट्र प्राचीन ईरान के पारसी धर्म के संस्थापक माने जाते हैं जो प्राचीन ग्रीस के निवासियों तथा पाश्चात्य लेखकों को इसके ग्रीक रूप जारोस्टर के ...

  • जमशेद

    जमशेद ईरानी पुराकथाओं में वर्णित, पहलवी यीमा से अभिन्न वीवंगहुवंत का पुत्र एवं ईरानी स्वर्णयुग का महान शासक था। फिरदौसी कृत शाहनामा में इसे सांस्कृतिक नायक क...

  • गाथा (अवेस्ता)

    अवेस्ता में भी गाथा का वही अर्थ है जो वैदिक गाथा का है अर्थात् गेय मंत्र या गति का। ये संख्या में पांच हैं जिनके भीतर 17 मंत्र सम्मिलित माने जाते हैं। ये पां...

  • ईरान में पारसी

    पारसी ईरान का सबसे पुराना धार्मिक समुदाय हैं। फारस की मुस्लिम विजय से पहले, पारसी राष्ट्र का प्राथमिक धर्म था। यह ईरान के पूर्व पारसी धर्म से पैदा हुआ था। या...

  • आतिश बेहराम

    अब भारत में पारसियों को जहां भी कहीं प्रार्थना स्थल है, उसे आतिश बेहराम या दर-ए मेहर कहा जाता है। आतिश इसलिए की पारसी धर्म के लोग अग्नि पूजक है। फारसी में आत...

  • अवस्ताई भाषा

    अवस्ताई एक पूर्वी ईरानी भाषा है जिसका ज्ञान आधुनिक युग में केवल पारसी धर्म के ग्रंथों, यानि अवस्ता, के द्वारा पहुँच पाया है। इतिहासकारों का मानना है के मध्य ...

पारसी धर्म

उदवाड़ा

ऊपर की ओर, राज्य में गुजरात के एक शहर में स्थित है, जहां पारसी ब्रा के लिए प्रसिद्ध है. पारसी आग पीसी रहे थे.वे वह आग-भगवान, जरथुस्त्र, भगवान दिया था. एक ही आग पारसी ईरान में लोगों को छोड़कर, भारत आया, तो आग के साथ भी आया था और उसे मुंबई के उत्तर में क्या मंदिर बनाने के द्वारा स्थापित किया गया है । यह आज भी जल रहा है ।

अंगिरा मैन्यु

अंगिरा मैन्यु अथवा अहिरमन पारसी धर्म में नकारात्मक अथवा विनाशक शक्तियों के स्वामी के रूप में वर्णित है। यह अहुरा मज़्दा के विरोधी देवता के रूप में स्वीकार कि...

अपाम नपात

अपाम नपात प्राचीन हिन्दू धर्म के एक देवता हैं जिनका उल्लेख ऋग्वेद में मिलता है। वे नदियों, झीलों व अन्य स्वच्छ पानी के अधिदेवता हैं। आर्यों के इन प्राचीन देव...

अवस्ताई भाषा

अवस्ताई एक पूर्वी ईरानी भाषा है जिसका ज्ञान आधुनिक युग में केवल पारसी धर्म के ग्रंथों, यानि अवस्ता, के द्वारा पहुँच पाया है। इतिहासकारों का मानना है के मध्य ...

आतिश बेहराम

अब भारत में पारसियों को जहां भी कहीं प्रार्थना स्थल है, उसे आतिश बेहराम या दर-ए मेहर कहा जाता है। आतिश इसलिए की पारसी धर्म के लोग अग्नि पूजक है। फारसी में आत...

ईरान में पारसी

पारसी ईरान का सबसे पुराना धार्मिक समुदाय हैं। फारस की मुस्लिम विजय से पहले, पारसी राष्ट्र का प्राथमिक धर्म था। यह ईरान के पूर्व पारसी धर्म से पैदा हुआ था। या...

गाथा (अवेस्ता)

अवेस्ता में भी गाथा का वही अर्थ है जो वैदिक गाथा का है अर्थात् गेय मंत्र या गति का। ये संख्या में पांच हैं जिनके भीतर 17 मंत्र सम्मिलित माने जाते हैं। ये पां...

जमशेद

जमशेद ईरानी पुराकथाओं में वर्णित, पहलवी यीमा से अभिन्न वीवंगहुवंत का पुत्र एवं ईरानी स्वर्णयुग का महान शासक था। फिरदौसी कृत शाहनामा में इसे सांस्कृतिक नायक क...

ज़रथुश्त्र

ज़रथुश्त्र, ज़रथुष्ट्र प्राचीन ईरान के पारसी धर्म के संस्थापक माने जाते हैं जो प्राचीन ग्रीस के निवासियों तथा पाश्चात्य लेखकों को इसके ग्रीक रूप जारोस्टर के ...

दखमा

दखमा या टॉवर ऑफ साइलेंस पारसियों के कब्रिस्तान को कहते हैं। यह गोलाकार खोखली इमारत के रूप में होता है जिसमें शव कौओं, चीलों आदि के खाने के लिए फेंक दिये जाते...

पारसी

पारसी धर्म के अनुयायियों को पारसी कहा जाता है। यह ईरान के प्राचीन जरदोश्त धर्म को मानते है और आज ईरान तथा भारत के कुछ क्षेत्रों में पाए जाते हैं।

मागी

प्राचीन ईरान में पारसी धर्म के पुजारियों को मागी कहते थे। इन्हें उच्च वर्ग का समझा जाता था। इस्लाम के आने के बाद ये ईरान के प्राचीन धर्म के प्रतीक बन गए और म...

यज़त

यज़त पारसी धर्म में उन देवता-जसी हस्तियों को कहते हैं जो पूजा के योग्य हैं। पारसी धर्मग्रन्थ अवेस्ता में विभिन्न यज़तों का उल्लेख मिलता है। सांझी आर्य धरोहर ...

यज़ीदी

यज़ीदी या येज़ीदी कुर्दी लोगों का एक उपसमुदाय है जिनका अपना अलग यज़ीदी धर्म है। इस धर्म में वह पारसी धर्म के बहुत से तत्व, इस्लामी सूफ़ी मान्यताओं और कुछ ईसा...

वायु-वात

वायु-वात ज़र्थुष्टी धर्म में एक दो प्रकृति वाले यज़त का अवस्ताई भाषा में नाम है जो वायु और वातावरण के अधिदेवता हैं। वह अच्छे भी हैं लेकिन बुरे भी हो सकते हैं।