• हीनभावना

    अपनी योग्यता को कम समझने, अनिश्चित होने या मानक स्तर से कम होने की भावना हीनभावना या हीनता मनोग्रंथि कहलाती है। यह भावना प्रायः अवचेतन मन में बैठी रहती है। ए...

  • व्यक्तिवाद

    व्यक्तिवाद एक नैतिक, राजनैतिक एवं सामाजिक दर्शन है जो व्यक्ति की स्वतन्त्रता एवं व्यक्तिगत आत्मनिर्भरता पर बल देता है और उसका समर्थन करता है। साधारण अर्थ में...

  • गुण

    गुण जीवमात्र की सद प्रवृति है जिसके कारण वह विशिष्ट बनता है। अंग्रेजी में इसके लिए वर्चू शब्द है जिसे लैटिन भाषा के वर्चुअस शब्द से बना है। मनुष्य की नैतिक उ...

  • अहमादर्श

    आदर्श अहम्: जिस प्रकार का व्यक्ति हम बनना चाहेंगे। इसे अहमादर्श या आदर्शीकृत आत्म ̄बब भी कहा जाता है। अहमादर्श या आदर्श अहम् किसी व्यक्ति का वह आन्तरिक बिम्ब...

व्यक्तित्व

सौंदर्य प्रतियोगिता

सौंदर्य प्रतियोगिता एक ऐसी प्रतियोगिता है जिसमें परम्परागत रूप से प्रतियोगियों के शारीरिक गुणों के के मापन के आधापर उनकी रैंकिंग की जाती है, किन्तु अब अधिकांश सौन्दर्य प्रतियोगिताओं में व्यक्तित्व, बुद्धि, प्रतिभा तथा निर्णायक के विभिन्न विषयों के प्रश्नों का उत्तर देने की क्षमता आदि विशेषताओं को भी सम्मिलित कर लिया गया है। सौन्दर्य प्रतियोगिता मुख्यतः स्त्रियों की प्रतियोगिताँ हैं।

अहमादर्श

आदर्श अहम्: जिस प्रकार का व्यक्ति हम बनना चाहेंगे। इसे अहमादर्श या आदर्शीकृत आत्म ̄बब भी कहा जाता है। अहमादर्श या आदर्श अहम् किसी व्यक्ति का वह आन्तरिक बिम्ब...

गुण

गुण जीवमात्र की सद प्रवृति है जिसके कारण वह विशिष्ट बनता है। अंग्रेजी में इसके लिए वर्चू शब्द है जिसे लैटिन भाषा के वर्चुअस शब्द से बना है। मनुष्य की नैतिक उ...

भारतीय व्यक्तित्व

यामिनी कृष्णमूर्ति, नृत्‍य बिरजू महाराज go to, नृत्‍य जतिन दास, चित्रकला अमृता शेरगिल, चित्रकार केलूचरण महापात्र, ओडिसी नृत्‍य मल्लिका साराभाई, नृत्‍य मकबूल ...

व्यक्तित्व विकास

हर मनुष्य का अपना-अपना व्यक्तित्व है। वही मनुष्य की पहचान है। कोटि-कोटि मनु्ष्यों की भीड़ में भी वह अपने निराले व्यक्तित्व के कारण पहचान लिया जाएगा। यही उसकी...

व्यक्तिवाद

व्यक्तिवाद एक नैतिक, राजनैतिक एवं सामाजिक दर्शन है जो व्यक्ति की स्वतन्त्रता एवं व्यक्तिगत आत्मनिर्भरता पर बल देता है और उसका समर्थन करता है। साधारण अर्थ में...

शीलगुण सिद्धान्त

मनोविज्ञान के सन्दर्भ में शीलगुण सिद्धांत या विशेषक सिद्धान्त मानव व्यक्तित्व के अध्ययन का एक तरीका है। शीलगुण सिद्धान्तकार मुख्यतः शीलगुणों के मापन को महत्व...

हस्तलेखानुमिति

हस्तलेखविज्ञान के साथ-साथ एक और कला भी विकसित हो रही है जिसे अंग्रेजी में ग्रेफॉलॉजी कहते हैं और हिंदी में हस्तलेखानुमिति कह सकते हैं। इसके अनुसार किसी व्यक्...

हीनभावना

अपनी योग्यता को कम समझने, अनिश्चित होने या मानक स्तर से कम होने की भावना हीनभावना या हीनता मनोग्रंथि कहलाती है। यह भावना प्रायः अवचेतन मन में बैठी रहती है। ए...