Lucknowfirst

बंजारो के राजपूत बनने की कहानी पढ़े?

Lucknowfirst

असली यदुवंशी कौन ? (1) अहीर अथवा जादौन ! एक विश्लेषण --भाग प्रथम

भाटी यदुवंशी राजपूत केसे बनें?

Lucknowfirst

भारत में जादौन ठाकुर तो जादौन पठानों का छठी सदी में हुआ क्षत्रिय करण रूप है ।क्योंकि अफगानिस्तान अथवा सिन्धु नदी के मुअाने पर बसे हुए जादौन पठानों का सामन्ती...

गीता ही है यादवों का धर्म ग्रन्थ, स्मृति ग्रंथों और ब्रमहवैवर्त पुराण में सत्य खोजने की चेष्टा ना...

Lucknowfirst

भागवत धर्म वैष्णव धर्म का अत्यन्त प्रख्यात तथा लोकप्रिय स्वरूप है । 'भागवत धर्म' का तात्पर्य उस धर्म से है जिसके उपास्य स्वयं भगवान्‌ श्री कृष्ण हों ; वासुदे...

यादवों का छुपाया गया इतिहास : भागवत धर्म को दुनिया से छुपाना ही है?

Lucknowfirst

भागवत धर्म वैष्णव धर्म का अत्यन्त प्रख्यात तथा लोकप्रिय स्वरूप है । 'भागवत धर्म' का तात्पर्य उस धर्म से है जिसके उपास्य स्वयं भगवान्‌ श्री कृष्ण हों ; वासुदे...

क्या समाज को वर्ण व्यवस्था के नाम पर विकृत करने का स्मृति ग्रंथों का कोई योगदान नहीं?

Lucknowfirst

तनिक अपने विद्वानों को बुलाओ और इन श्लोकों और दोहे का सकारात्मक दृष्टिकोण प्रस्तुत करें। क्या ये श्लोक मिशनरियों द्वारा बनाए गए थे? उन्होंने इसका फायदा उठाया...

मीरा के प्रभू गिरधर नागर आखिर जाति अहीर रे : चित्रा सिंह / मीराबाई

Lucknowfirst

मीरा के प्रभू गिरधर नागर आखिर जाति अहीर रे : चित्रा सिंह / मीराबाई

यहूदी बंजारे कैसे बने यदुवंशी राजपूत ?

Lucknowfirst

जादौन या जादों अहीर जाति से उत्पन्न हुए राजपूत है, जिनका राजपूती करण 18 वीं शताब्दी में हुआ । जादौन राजवंश के संस्थापक ब्रह्मपाल अहीर और उनके सगे संबंधियों क...

Scions of Krishna: A Brief History of Jadon, Bhati and Saini Rajputs

Lucknowfirst

श्रेष्ठ वंश में श्रेष्ठ सन्तानें का ही प्रादुर्भाव होता है । दोगले और गाँलि- गलोज करने वाले और अय्याश लोग नि: सन्देह अवैध यौनाचारों से उत्पन्न होते हैं । जिन...

यदुवंशी क्षत्रियों की शाखा जादौन/जाधव राजपूतों

Lucknowfirst

श्रेष्ठ वंश में श्रेष्ठ सन्तानें का ही प्रादुर्भाव होता है । दोगले और गाँलि- गलोज करने वाले और अय्याश लोग नि: सन्देह अवैध यौनाचारों से उत्पन्न होते हैं । जिन...

अभीर / अहीर राजा नहुष : एक पौराणिक कहानी Nahush: A story from Puranas

Lucknowfirst

नहुष, पुरवा के पुत्र आयु का पुत्र था। वृत्रासुर के वध से उत्पन्न ब्रह्महत्या का प्रायश्चित्त करने के लिए जब इंद्र एक हजार वर्ष तक तप करते रह गए तो नहुष को स्...

अभीर ( अहीर) राजा पुरुरवा : दिनकर के काव्य 'उर्वशी' के नायक पुरुरवा का प्रेयसी को प्रेम प्रस्ताव

Lucknowfirst

ऋग्वेद में वैदिक संस्कृति की पहली कथा उर्वशी और राजा पुरुरवा की है।दो भिन्न संस्कृतियों की टकहराट की प्रतीक बन गयी है यह मार्मिक प्रणय-गाथा।उर्वशी के लिए राम...

अहीर रेजिमेंट हक यदुवंशियों का : युद्ध इतिहास में अनूठी है रेजांगला की शौर्य गाथा

Lucknowfirst

लद्दाख की दुर्गम बर्फीली चोटी पर लिखी गई अहीरवाल के वीरों द्वारा लिखी शहादत की गाथा आज भी युवाओं के जहन में देशभक्ति की भावना जागृत कर रही है। चीनी आक्रमण के...

भगवान कृष्ण यादव थे या राजपूत ?

Lucknowfirst

सबसे पहले ये जानते हैं कि यादव होता कौन है ? पुराणों के अनुसार सोमवंशी राजा ययाति के बड़े पुत्र महाराज यदु के वंशजो को यादव कहा जाता है। यादवों अपना जीवन याप...

राव तुलाराम का किस्सा , इतिहास, प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के महानायक

Lucknowfirst

राव तुलाराम सिंह (09 दिसम्बर 1825 -23 सितम्बर 1863)1857 का प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्रामके प्रमुख नेताओं में से एक थे।[1]उन्हे हरियाणा राज्य में " राज नायक...

जादौन ( Jadon) , यदुवंशी राजपूत कौन है? सम्पूर्ण इतिहास

Lucknowfirst

जादौन या जादों अहीर जाति से उत्पन्न हुए राजपूत है, जिनका राजपूती करण 18 वीं शताब्दी में हुआ । जादौन राजवंश के संस्थापक ब्रह्मपाल अहीर और उनके सगे संबंधियों क...

अहीर ( अभीर ) , यादव और गोप कौन है

Lucknowfirst

गोपाभीरयादवा एकैव वंशजातीनाम् त्रतये। विशेषणा: वृत्तिभिश्च प्रवृत्तिभिर्वंशानां प्रकारा:सन्ति। अर्थ : गोप, अहीर , यादव ये सब एक ही वंश के सजातीय है। ये इनकी ...

अहीर (आभीर) वंश के राजा, सरदार व कुलीन प्रशासक

Lucknowfirst

यह लेख ऐतिहासिक रूप से आभीर या अहीर कहे जाने वाले शासकों के बारे में है। आभीर (अहीर) जाति के लिए, अहीर देखें। प्राचीन यदुवंशी होने का दावा करने वाली वर्तमान ...

Lucknowfirst

Lucknowfirst

Lucknow first [ lucknowfirst.com ] lucknowfirst ! lucknowfirst is a website; brings career, Jobs, current political situation, institute, business type of in...